Tuesday, January 31, 2023
Google search engine
Homeदुनियायूके एचसी से नीरव मोदी को बड़ा झटका, प्रत्यर्पण रोकने की अर्जी...

यूके एचसी से नीरव मोदी को बड़ा झटका, प्रत्यर्पण रोकने की अर्जी खारिज, अब भारत लाया जाएगा


ब्रिटेन: नीरव मोदी को भारत लाने का रास्ता अब साफ हो गया है. यूके एचसी ने बुधवार को नीरव द्वारा उसके प्रत्यर्पण पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका को खारिज कर दिया। अदालत ने अपने आदेश में स्पष्ट किया कि याचिकाकर्ता का प्रत्यर्पण किसी भी तरह से अन्यायपूर्ण या दमनकारी नहीं होगा। इस आदेश के बाद भारतीय एजेंसियां ​​सक्रिय हो गई हैं। अब नीरव को जल्द भारत लाने की उम्मीद है।

इससे पहले इस मामले में जस्टिस रॉबर्ट जे ने कहा था कि भारत के ब्रिटेन के साथ अच्छे संबंध हैं और 1992 की भारत-ब्रिटेन प्रत्यर्पण संधि का सम्मान करना जरूरी है। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि आत्महत्या की धमकी प्रत्यर्पण के खिलाफ आधार नहीं हो सकती।

नीरव ने यह कहा

कोर्ट में नीरव के वकील ने दलील दी थी कि याचिकाकर्ता डिप्रेशन में है और वह वहां आत्महत्या भी कर सकता है क्योंकि भारत की जेल में हालात हैं. भारत सरकार की ओर से पेश हुए वकील ने कहा था कि यह बेहद संवेदनशील और हाई प्रोफाइल मामला है. ऐसे में नीरव मोदी का पूरा ध्यान रखा जाएगा।

यह है पूरा मामला

आपको बता दें कि हीरा कारोबारी नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी पर पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) से 13 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की धोखाधड़ी करने का आरोप है. आरोपों के मुताबिक, नीरव मोदी ने तीन कंपनियों, उसके अधिकारियों और पंजाब नेशनल बैंक के अधिकारियों की मिलीभगत से यह धोखाधड़ी की थी. नीरज ने भारत में पीएनबी की बार्टी हाउस शाखा के अधिकारियों की मिलीभगत से 11,000 करोड़ रुपये से अधिक के फर्जी डिबेंचर के जरिए इस धोखाधड़ी को अंजाम दिया.



RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments