Wednesday, February 8, 2023
Google search engine
Homeप्रदेशउत्तर प्रदेश / उत्तराखंडअवैध मांस कारोबारी बसपा नेता पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी की पत्नी...

अवैध मांस कारोबारी बसपा नेता पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी की पत्नी दोनों बेटों पर गैंगस्टर


उतार प्रदेश।मेरठ में बीएसपी नेता व पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी व उनकी पत्नी व दोनों बेटों समेत सात लोगों के खिलाफ गुरुवार देर रात खरखौदा थाने में गैंगस्टर का मामला दर्ज किया गया है. कानूनी राय के बाद डीएम की अनुशंसा पर रात में ही गैंगस्टर का मामला दर्ज कर लिया गया। पिछले कई वर्षों से अवैध मांस का कारोबार किए जाने की पुष्टि के बाद मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने साक्ष्य के आधार पर आरोपी के खिलाफ संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस परिवार पर गैंगस्टर लगाने की तैयारी कर रही थी

पुलिस जांच के अनुसार मेरठ जिले के मेरठ जिले के खरखौदा थाना क्षेत्र के अलीपुर जिजमाना स्थित अल फहीम मीटेक्स प्राइवेट लिमिटेड का पूरा रिकॉर्ड पुलिस ने अपने कब्जे में लेने के बाद पुलिस जांच के अनुसार यह फैक्ट्री बसपा नेता व पूर्व विधायक की पत्नी थी. मंत्री हाजी याकूब कुरैशी. शामजीदा बेगम, बेटे इमरान कुरैशी और फिरोज उर्फ ​​भूरा। याकूब कुरैशी फैक्ट्री में बेटों की देखभाल भी करता था। पुलिस ने उसके परिवार के सभी सदस्यों के आपराधिक रिकॉर्ड की भी जांच शुरू कर दी थी। इसके साथ ही इमरान और फिरोज की अवैध रूप से अर्जित संपत्ति की भी जांच की गई, जिसके बाद गैंगस्टर का मामला दर्ज किया गया।

कार्रवाई के बाद पुलिस ने किया खुलासा

दरअसल, 31 मार्च को प्रशासन ने अलीपुर जिजमाना की मीट फैक्ट्री पर छापेमारी कर 19 घंटे तक जांच की. जांच के दौरान फैक्ट्री में मिले पुराने मांस के साथ भारी मात्रा में पैक्ड मीट भी मिला। एमडीए ने रात में ही फिर से फैक्ट्री को सील कर दिया। खुले में रखे 67 क्विंटल मांस से तेज दुर्गंध आने पर उसे नष्ट करने की कार्रवाई शुरू की गई और 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया. हाजी याकूब की पत्नी और दोनों बेटों इमरान व फिरोज समेत 14 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।

अधूरे दस्तावेज के चलते दो बार लौटाई गैंगस्टर कार्रवाई की फाइल

अल फहीम मीटेक्स प्राइवेट लिमिटेड पर छापेमारी के बाद हाजी याकूब समेत सात आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई शुरू की गई थी. इस फाइल में उठाई गई दो आपत्तियों और दस्तावेज अधूरे होने के कारण फाइल वापस कर दी गई थी। गैंगस्टर की फाइल को कानूनी राय के लिए अभियोजन पक्ष के पास भेजा गया और तमाम कमियों को पूरा करने के बाद फाइल एसएसपी रोहित सजवान के पास पहुंची. एसएसपी ने फाइल पढ़ने के बाद गुरुवार को ही डीएम मेरठ दीपक मीणा से बात की और उन्हें फाइल भेज दी. इसके बाद खरखौदा थाने में हाजी याकूब कुरैशी, उसकी पत्नी संजीदा बेगम, दोनों बेटों इमरान व फिरोज सहित मैनेजर मोहित त्यागी, मुजीब व फैजाब के खिलाफ गैंगस्टर का मामला दर्ज किया गया था. फिलहाल हाजी याकूब कुरैशी और उसके बेटे फरार हैं और उनकी तलाश की जा रही है.

मेरठ के एसएसपी रोहित सिंह सजवान ने बताया कि याकूब कुरैशी और 7 लोगों पर गैंगस्टर की फाइल डीएम कार्यालय भेजी गई थी, जिस पर शिकायत की गई है. इसके बाद गैंगस्टर का मामला दर्ज किया गया है। आगे की कार्रवाई नियमानुसार की जाएगी।

क्या गैंगस्टर याकूब कुरैशी का वेरिफाइड फेसबुक अकाउंट होगा डिलीट?

बसपा नेता और पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी का सोशल मीडिया पर अकाउंट है, गैंगस्टर याकूब कुरैशी को फेसबुक पर एक लाख से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं, जिसका अकाउंट वेरिफाइड भी है. अब इससे समाज में यह गलतफहमी पैदा होती है कि अगर फेसबुक पर गैंगस्टरों के वेरिफाइड अकाउंट भी हैं तो सही और गलत में फर्क कैसे होगा, अब देखना होगा कि मेरठ पुलिस इस वेरिफाइड फेसबुक अकाउंट को बंद करती है या नहीं.



RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments