Thursday, December 8, 2022
Google search engine
Homeप्रदेशराजस्थानसीएम गहलोत ने लिया बड़ा फैसला चित्तौड़गढ़ के भदेसर में बनेगा लोकदेवता...

सीएम गहलोत ने लिया बड़ा फैसला चित्तौड़गढ़ के भदेसर में बनेगा लोकदेवता अमराजी भगत का पैनोरमा


चित्तौड़गढ़: राजस्थान के मुख्यमंत्री ने एक बार फिर बड़ा चुनावी दांव खेला है। सीएम गहलोत ने बड़ा फैसला लेते हुए जानकारी दी है कि राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले की भदेसर तहसील के दौलतपुरा गांव में लोकदेवता अमरा जी भगत का पैनोरमा बनाया जाएगा. पैनोरमा के निर्माण के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 4 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी है.

आपको बता दें कि अमरा जी भगत द्वारा किए गए सामाजिक सरोकार के कार्यों को विभिन्न माध्यमों से दिखाया जाएगा. मुख्य पैनोरमा बिल्डिंग, ऑडिटोरियम, हॉल, लाइब्रेरी, एंट्रेंस गेट, कैनोपी, मूर्तियां, ऑडियो-वीडियो सिस्टम, शिलालेख, विभिन्न कला कृतियों सहित कई काम होंगे।

इस पैनोरमा के लिए 1.20 हेक्टेयर भूमि जिला कलेक्टर चित्तौडगढ के आराजी क्रमांक 366/115 द्वारा आवंटित की गई है। गौरतलब है कि लोकदेवता अमरा जी भगत (अंगड़ बावजी) ने गदरी समाज व चित्तौड़गढ़ विधानसभा क्षेत्र के लोगों की भावनाओं के अनुरूप पैनोरमा निर्माण की स्वीकृति प्रदान की है.

जानिए कौन थे अमरा भगत

संत शिरोमणि अमरा भगत की समाधि चित्तौड़गढ़ जिले की नरबदिया तहसील के भदेसर में स्थित है। जब संत अमरा भगत का जन्म हुआ तो उन्होंने जन्म के बाद 9 दिनों तक अपनी मां का दूध नहीं पिया। सूर्य पूजा की रस्म पूरी करने के बाद मां का दूध पीने के बाद इस सफल बालक की चर्चा पूरे इलाके में फैल गई। उस समय देश में प्लेग नाम की महामारी और लाल ताव नाम की बीमारी फैल गई थी, इसलिए उन्हें इस महामारी से बचाने के लिए अमरा भगत ने अंगढ़ बावजी की धूनी पर घोर तपस्या की और लोगों को बचाया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments