Saturday, February 4, 2023
Google search engine
Homeप्रदेशराजस्थानलिव-इन में रह रहे युवक के साथ तालिबान की बर्बरता

लिव-इन में रह रहे युवक के साथ तालिबान की बर्बरता


केजे श्रीवत्सन, टोंक: राजस्थान के टोंक जिले से तोड़फोड़ की खबर सामने आ रही है. लंबाहृसिंह मुंडियाकला निवासी एक युवक (तोदरई सिंह) को सामाजिक रिवाज के खिलाफ लड़की को अपनी पत्नी के रूप में रखना मुश्किल हो गया। इस संबंध में मौके पर मौजूद समाज के पंच-पटेल के युवक व उसकी बहन को जूते-चप्पल की माला पहनाकर युवक को पेशाब पिलाया गया. इतना ही नहीं उसे गर्म चिमटे से जख्मी करने का मामला भी सामने आया है.

अभी पढ़ो बांसवाड़ा : जहरीली शराब से एक महिला समेत 3 लोगों की मौत, हड़कंप

बताया जा रहा है कि लड़की पक्ष के लोगों ने इस बर्बरता का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर भी अपलोड कर दिया. इससे दोनों घायल हो गए। इस संबंध में पीड़ित युवक ने लड़की के माता पिता समेत 8 लोगों के खिलाफ लंबाहरीसिंह थाने में मामला दर्ज कराया है. इनमें से 3 लोगों को पुलिस ने पकड़ लिया है।

मालपुरा के एएसपी राकेश कुमार बैरवा ने बताया कि करीब 12 दिन पूर्व मालपुरा थाना क्षेत्र के रिंदल्या निवासी नोरती लाल की अविवाहित लड़की मोजाराम मोग्या के पुत्र कालू के साथ पत्नी बनकर रहने गई थी. कुछ दिनों तक दोनों काकड़ी (अजमेर) थाना क्षेत्र के तसवरिया में किसी के पोल्ट्री फार्म में रहते थे.

आगे बताया गया है कि दिवाली के बाद घरवाले लड़की को अपने साथ वहां से ले आए. इस मामले को लेकर सोमवार को भोपालो मंदिर के बाहर मोग्या समाज के पंचों की बैठक हुई. इसमें युवक कालू मोग्या (28) को भी बुलाया गया था। ऐसे में कालू भी अपनी बहन मीरा मोग्या (26) के साथ आया। बैठक में पंच-पटेलों ने लड़की के पिता को 93 हजार रुपये देने और फिर 5 दिन का समय देते हुए लड़की को अपने साथ ले जाने का निर्णय लिया. फैसला सुनाने के बाद पंच-पटेल अपने-अपने घर चले गए।

बस स्टैंड जाते समय अपहरण

पीड़िता के मुताबिक, मुलाकात के बाद दोनों भाई-बहन अपने गांव जाने के लिए पैदल करीब 500 मीटर दूर स्थित बस स्टैंड जा रहे थे. फिर बाद में आए युवती के परिजन दोनों भाई-बहनों को उठाकर जंगल में ले गए. वहां दोनों को रात भर बंधक बनाकर रखा गया। कालू को जूतों की माला पहनाई गई और उसे पेशाब पिलाया गया। सिर भी गर्म चिमटे से दागा गया। उसने धारदार हथियार से नाक पर गहरा प्रहार किया। लड़की के परिवार वालों ने इस पूरी घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया।

स्टाम्प पर जबरन लिखवा लिया कि मैं केस दर्ज नहीं कराऊंगा

पीड़ित कालू मोग्या के मुताबिक मंगलवार को लड़की के परिजन दोनों भाई-बहनों को जबरन मालपुरा कोर्ट ले गए. जहां उसने केस न करने की धमकी दी और 500 रुपये के स्टांप पर लिखा कि अगर उसने केस किया तो 5.51 लाख रुपये देंगे. डर के मारे उसने डाक टिकट पर हस्ताक्षर कर दिए। 2 साल पहले रिलेशनशिप में गई थी पहली पत्नी कालू मोग्या की पहली पत्नी 2 साल पहले रिलेशनशिप में गई थी। उनका 1 लड़का और 1 लड़की है, जो कालू के साथ रहते हैं।

अभी पढ़ो बिहार में एक ही परिवार के पांच लोगों ने जहर खाकर की आत्महत्या, जांच में सामने आया ये कारण

8 लोगों के खिलाफ केस दर्ज

एसएचओ भगीरथ सिंह ने बताया कि पीड़ित कालू ने बच्ची के पिता नवरत्न, मां गीता, भाई सावित्री, भाई शंकर निवासी (झीरोटा) के साले, भोपलव निवासी पारस, हेमराज, संतरा, गोवर्धन मोग्या के खिलाफ मामला दर्ज किया है. जिसके बाद पारस, शंकर और हेमराज पकड़े गए।

अभी पढ़ो राज्य से जुड़ा हुआ समाचार यहां पढ़ना

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments