Thursday, January 26, 2023
Google search engine
Homeप्रदेशराजस्थानराहुल गांधी ने राजस्थान के सांगोद गांव से अपनी यात्रा की शुरुआत...

राहुल गांधी ने राजस्थान के सांगोद गांव से अपनी यात्रा की शुरुआत की


नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी के नेतृत्व में तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का आज 91वां दिन है. वहीं, राजस्थान में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का आज तीसरा दिन है. राहुल गांधी ने आज सुबह 6 बजे कोटा के सांगोद से अपनी यात्रा शुरू की. राहुल गांधी के साथ सचिन पायलट, रणदीप सुरजेवाला समेत कई बड़ी हस्तियां भी पैदल मार्च कर रही हैं.

आपको बता दें कि राहुल गांधी की अगुवाई में निकाली जा रही यात्रा में भीड़ उमड़ रही है. उनकी भारत जोड़ो यात्रा को लोगों का भरपूर समर्थन मिल रहा है. यात्रा जिस क्षेत्र से होकर गुजरती है वहां के लोग पारंपरिक परिधानों में राहुल गांधी और यात्रा का स्वागत कर रहे हैं. लोग उन्हें प्रामाणिक संस्कृति दिखाते हुए उनका गर्मजोशी से स्वागत करते हैं। इस यात्रा में प्रतिदिन बड़ी संख्या में लोग शामिल हो रहे हैं।

गौरतलब है कि राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की इस भारत जोड़ो यात्रा में बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता और समर्थक शामिल हो रहे हैं. राहुल गांधी पैदल यात्रा कर देशभर में एक अलग संदेश देने की कोशिश कर रहे हैं. इस पदयात्रा को लेकर राहुल गांधी का कहना है कि उन्हें यात्रा से बहुत कुछ सीखने को मिल रहा है. हवाई जहाज, हेलीकॉप्टर या कार में यात्रा करते समय जो बातें समझ में नहीं आतीं। किसानों से हाथ मिलाने के बाद ही समझ आता है कि वे क्या कर रहे हैं। यह एक हेलीकाप्टर से नहीं सीखा जा सकता है।

भारत जोड़ो यात्रा को अपनी तपस्या बताते हुए राहुल गांधी ने कहा कि उनका उद्देश्य लोगों से जुड़ना और उनकी समस्याओं को समझना था और इस यात्रा के माध्यम से इस उद्देश्य को पूरा किया जा रहा है. इस दौरे में राहुल गांधी बेरोजगारी और महंगाई के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर निशाना साधते रहे हैं.

गौरतलब है कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 7 सितंबर को कन्याकुमारी से शुरू हुई थी, जो अब तक सात राज्यों तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश से होते हुए अब राजस्थान में है. कांग्रेस की 3750 किलोमीटर की भारत जोड़ो यात्रा 12 राज्यों से होकर गुजरेगी। यह दक्षिण में कन्याकुमारी से उत्तर में कश्मीर तक 3,750 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। यह यात्रा मध्य प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब के बाद जम्मू-कश्मीर पहुंचकर समाप्त होगी।



RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments