Thursday, February 2, 2023
Google search engine
Homeप्रदेशराजस्थानजेंडर बदलने के बाद 'आरव' ने बनाई मीरा, लड़के की तरह छात्रा...

जेंडर बदलने के बाद ‘आरव’ ने बनाई मीरा, लड़के की तरह छात्रा से की शादी


भरतपुर: राजस्थान के भरतपुर में प्यार की एक अनोखी घटना सामने आई है, जिसकी चर्चा हर तरफ हो रही है. इधर जिले में एक महिला शिक्षिका को अपने ही स्कूल की एक छात्रा से प्यार हो गया. इसके बाद लड़की ने अपने प्यार की खातिर अपना लिंग बदलवा लिया और 4 दिन पहले एक लड़की से लड़का बन कर एक स्कूली छात्रा से शादी कर ली. दोनों शादी के बाद बेहद खुश नजर आ रहे हैं। दोनों की शादी से दोनों के परिवार वाले काफी खुश हैं.

प्यार की राह में जेंडर आ रहा था

मीरा से आरव (अब जेंडर चेंज के बाद आरव) बने दूल्हे ने बताया कि मैं एक सरकारी स्कूल में फिजिकल टीचर हूं। उसी गांव की छात्रा कल्पना खेलने में बहुत अच्छी थी। उसी दौरान हम दोनों में प्यार हो गया। मीरा और कल्पना के बीच प्यार इतना बढ़ गया कि दोनों ने शादी करने का फैसला कर लिया। हालांकि, जेंडर को लेकर दोनों के बीच बाधाएं थीं।

2019 में लिंग परिवर्तन का फैसला

इसके बाद मीरा ने साल 2019 में जेंडर चेंज करने का फैसला किया। कई बार सर्जरी करवाई। जेंडर चेंज की प्रक्रिया पूरी होने के बाद वह मीरा से आरव बन गई। इसके बाद 4 नवंबर को उन्होंने अपनी छात्रा कल्पना से शादी कर ली। लोग अब उन्हें मीरा नहीं, बल्कि आरव कुंतल के नाम से बुलाते हैं। वर्तमान में नौकरी के दस्तावेजों में नाम परिवर्तन और लिंग मिलान कराने में काफी परेशानी हो रही है।

दिल्ली में तीन साल चली सर्जरी

आपको बता दें कि मीरा का जन्म एक लड़की के रूप में हुआ था, लेकिन उनके हाव-भाव लड़कों जैसे थे। डॉक्टरों की राय में इसे डिस्फोरिया कहा जाता है। उन्होंने 25 दिसंबर, 2019 से 2021 तक दिल्ली के एक अस्पताल में लिंग परिवर्तन की सर्जरी करवाई। इन तीन सालों में मीरा की छात्रा कल्पना ने पूरा ध्यान रखा। इसी दौरान दोनों में प्यार हो गया। हाल ही में 4 नवंबर को कल्पना और आरव ने शादी के बंधन में बंध गए।

खेल के दौरान अपने छात्र से प्यार हो गया

शादी के बाद आरव कुंतल ने बताया कि मैं एक सरकारी स्कूल में फिजिकल टीचर हूं। उसी गांव की छात्रा कल्पना खेलने में बहुत अच्छी थी। उसी दौरान हम दोनों में प्यार हो गया। मैं एक लड़की के रूप में पैदा हुआ था, लेकिन मुझे लगा कि मैं एक लड़का हूं, लड़की नहीं। इसलिए मैंने अपना जेंडर चेंज करवाया और अपनी स्टूडेंट कल्पना से शादी कर ली।

शादी के बाद खुश हैं दोनों

वहीं शादी के बाद दुल्हन बनी छात्रा कल्पना ने बताया कि मीरा मेरे स्कूल में फिजिकल टीचर थी और मैं खेलने जाता था. कल्पना के अनुसार खेलते समय हमें प्यार हो गया और मीरा ने शादी करने के लिए अपना लिंग बदल लिया और वह मेरे लिए एक लड़का बन गई। कल्पना ने कहा कि हम दोनों एक दूसरे से बहुत प्यार करते हैं और दोनों के घरवाले भी हमारी शादी से खुश हैं.

बचपन से ही हरकतें लड़कों की थीं।

इस शादी के बारे में मीडिया से बात करते हुए आरव के पिता बीरी सिंह ने बताया कि मेरी पांच लड़कियां थीं और कोई बेटा नहीं था. सबसे छोटी बेटी मीरा लड़की होते हुए भी लड़कों की तरह रहती थी। उसकी सारी हरकतें बचकानी थीं। लड़कों के साथ ही खेला करते थे। अब उन्होंने अपना जेंडर बदल लिया है। मैं बहुत खुश हूं कि आरव और कल्पना की शादी हो चुकी है। आपको बता दें कि इस शादी की खास बात यह है कि दोनों परिवारों की सहमति के बाद यह रिश्ता जुड़ा है।



RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments