Wednesday, February 1, 2023
Google search engine
Homeप्रदेशगैंगस्टर राजू ठेहट की हत्या के बाद सीकर में तनाव, समर्थकों ने...

गैंगस्टर राजू ठेहट की हत्या के बाद सीकर में तनाव, समर्थकों ने बंद किया शहर


राजू थेहट: राजस्थान के सीकर जिले में शनिवार सुबह कुख्यात गैंगस्टर राजू ठेहट की उसके घर के सामने गोली मारकर हत्या कर दी गई. चार बदमाशों ने राजू ठेहट को उसके घर के पास गोली मार दी। राजू ठेहट की हत्या के बाद सीकर शहर में जमकर तनाव व्याप्त हो गया। वीर तेजा सेना ने अनिश्चित काल के लिए सीकर बंद का ऐलान किया है। शहर में जगह-जगह पर गैंगस्टर के समर्थक दुकानें बंद करवा रहे हैं। उधर, राजू ठेहट के परिजन शवगृह के बाहर बैठे रहे।

बता दें कि राजू ठेहट को मारने आए सभी लोग कोचिंग में पढ़ने वाले लड़कों की यूनिफॉर्म में थे. पहले सेल्फी लेने के बहाने घर के बाहर राजू ठेहट को बुलाया और फिर उस पर गोलियों से हमला कर दिया. इस हादसे में राजू थेहट की मौके पर ही मौत हो गई।

घटना के बाद राजू थेठ को एसके अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं, परिजन अस्पताल के सामने धरने पर बैठ गए हैं और वीर तेज सेना ने सीकर बंद का ऐलान कर दिया है. जानकारी के अनुसार गैंगस्टर राजू ठेहट का घर उद्योग नगर थाना क्षेत्र के पिपराली रोड पर है. आज सुबह राजू थेहट अपने घर से निकला था। तभी पहले से घात लगाए अज्ञात बदमाशों ने उसे गोली मार दी।

बता दें कि इस हत्याकांड की जिम्मेदारी लॉरेंस विश्नोई गैंग के रोहित गोदारा ने ली है. गोदारा ने फेसबुक पर पोस्ट करते हुए कहा कि राजू हमारे बड़े भाई आनंदपाल बलबीर की हत्या में शामिल था, जिसका हमने बदला ले लिया है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हम जल्द ही और दुश्मनों से मिलेंगे।

राजू थेहट हत्याकांड को लेकर पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप ने कहा, ‘राजू थेहट की पिपराली रोड स्थित उसके घर के मुख्य गेट पर गोली मारकर हत्या कर दी गई. एसपी ने बताया कि घटना सुबह करीब सवा दस बजे की है. इस घटना के बाद पूरे इलाके को सील कर दिया गया है और दोषियों की तलाश की जा रही है.

गौरतलब है कि राजू थेठ और आनंदपाल गैंग के बीच लंबे समय से दुश्मनी थी. इससे पहले भी 2014 में राजू थेठ पर हमला हुआ था, जिसमें वह बाल-बाल बचे थे। इसके बाद भी उन पर हमले की कई कोशिशें हुईं। 2017 में आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद गैंगवार एक बार शांत होता दिख रहा था। लेकिन कुछ महीने पहले जब आनंदपाल गिरोह का मनोज कुमार जयपुर में पकड़ा गया तो उसने राजू थेठ को जान से मारने की कोशिश की बात कहकर फिर से गैंगवार की आशंका जताई.



RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments