Wednesday, February 1, 2023
Google search engine
Homeस्पोर्ट्सखेल मंत्रालय ने पहलवानों को बुलाया, कई खिलाड़ी नेशनल चैंपियनशिप से बिना...

खेल मंत्रालय ने पहलवानों को बुलाया, कई खिलाड़ी नेशनल चैंपियनशिप से बिना खेले ही लौट गए


नई दिल्ली:देश के पहलवानों और कुश्ती महासंघ के बीच खींचतान चल रही है। पहलवान आज तीसरे दिन भी दिल्ली के जंतर मंतर पर धरने पर बैठे हैं। खेल मंत्रालय ने फिर खिलाड़ियों को शाम छह बजे मिलने के लिए बुलाया है। पहलवान विनेश फोगाट ने बताया कि हमने अपनी समस्या केंद्रीय खेल मंत्री के सामने रखी. उन्होंने हमें शाम 6 बजे एक और अपॉइंटमेंट दिया है। कुछ मुद्दे ऐसे थे जिन पर हम असंतुष्ट थे।

गोंडा से बिना खेले ही खिलाड़ी लौट रहे हैं

खबरों के मुताबिक कई पहलवान वहां से बिना खेले ही लौट रहे हैं. जंतर-मंतर पर लगातार तीसरे दिन देश के नामी पहलवान भारतीय कुश्ती महासंघ के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. प्रेस कॉन्फ्रेंस में बजरंग पूनिया ने कहा कि हमारी ट्रेनिंग खराब होती जा रही है. उन्होंने कहा, “हम भी यहां नहीं बैठना चाहते। यह साल बहुत महत्वपूर्ण है, उम्मीद है कि सरकार जल्द ही कार्रवाई करेगी। फेडरेशन के अध्यक्ष इसे राजनीतिक रंग दे रहे हैं लेकिन प्रदर्शन में केवल खिलाड़ी हैं।

यौन उत्पीड़न के आरोपों से घिरे भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने शुक्रवार को इस्तीफा देने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा, ‘अगर मैं अपना मुंह खोलूंगा तो सुनामी आ जाएगी। मेरे समर्थन में कई खिलाड़ी भी हैं। मैं शाम को प्रेस कॉन्फ्रेंस करूंगा।

‘सरकार बृजभूषण शरण सिंह को नहीं हटा सकती’

इस बीच, सूत्रों ने दावा किया है कि सरकार बृजभूषण शरण सिंह को नहीं हटा सकती क्योंकि वह एक निर्वाचित निकाय के अध्यक्ष हैं। अगर वह खुद इस्तीफा दे दें तो ठीक है। उनका कार्यकाल मार्च में समाप्त हो रहा है।

कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है। उन पर साक्षी मलिक, बजरंग पुनिया, विनेश फोगाट, रवि दहिया समेत कई पहलवान आरोप लगा रहे हैं।



RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments