Thursday, February 2, 2023
Google search engine
Homeदेशपहलवानों की हड़ताल खत्म होने के बाद कड़ा एक्शन, WFI की सभी...

पहलवानों की हड़ताल खत्म होने के बाद कड़ा एक्शन, WFI की सभी गतिविधियां स्थगित


नई दिल्ली: खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ पहलवानों की बैठक और धरना समाप्त करने के बाद कार्रवाई शुरू हो गई है. भारत सरकार ने निरीक्षण समिति की औपचारिक रूप से नियुक्ति होने तक भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) की सभी गतिविधियों को निलंबित करने का निर्णय लिया है। इसमें डब्ल्यूएफआई में चल रही रैंकिंग प्रतियोगिता का निलंबन और किसी भी गतिविधि के लिए प्रतिभागियों से लिए गए प्रवेश शुल्क की वापसी भी शामिल है।

सहायक सचिव विनोद तोमर निलंबित

यह घोषणा सरकार द्वारा 20 जनवरी को एक निरीक्षण समिति नियुक्त करने के निर्णय के बाद आई है जो डब्ल्यूएफआई की दिन-प्रतिदिन की गतिविधियों को संभालेगी। इसके साथ ही डब्ल्यूएफआई के सहायक सचिव विनोद तोमर को भी तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

पहलवान अनुराग ठाकुर से मिले

इससे पहले शुक्रवार की रात पहलवानों के एक दल ने खेल मंत्री अनुराग ठाकुर से मुलाकात की थी. इसमें बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक, बबीता फोगट और विनेश फोगाट जैसे पहलवान मौजूद थे। करीब 5 घंटे तक चली बैठक के बाद अनुराग ठाकुर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान पहलवानों ने हड़ताल समाप्त करने की घोषणा की। अनुराग ठाकुर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा- खिलाड़ियों से काफी गंभीर बातचीत की। उनके द्वारा लगाए गए आरोपों को काफी बारीकी से सुना। इस बात पर भी चर्चा हुई है कि कुश्ती संघ में सकारात्मक पहलू क्या होना चाहिए, आरोप लगाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी.

उन्होंने आगे कहा- इस मामले में अब एक ओवरसीज कमेटी बनेगी। इसके सदस्यों के नामों की घोषणा कल की जाएगी। एक माह में जांच पूरी कर ली जाएगी। साथ ही जांच होने तक बृजभूषण सिंह काम से दूर रहेंगे। वहीं, बजरंग पुनिया ने कहा- हमें विश्वास है कि निष्पक्ष जांच होगी। हम अब प्रोटेस्ट खत्म कर रहे हैं।



RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments