Thursday, February 9, 2023
Google search engine
Homeधर्म/ज्योतिषभारत पर हो सकता है हमला! जनता भी होगी परेशान

भारत पर हो सकता है हमला! जनता भी होगी परेशान


2023 भविष्यवाणियां: इस साल केवल 15 दिनों के अंतराल पर लगातार सूर्य ग्रहण और चंद्र ग्रहण पड़ रहे हैं। दोनों ग्रहण मंगलवार को लगे। इसके अलावा जहां सूर्य ग्रहण तुला राशि में शुक्र की राशि में हुआ है, वहीं भरणी नक्षत्र में भी चंद्र ग्रहण हुआ है जिसका स्वामी भी शुक्र है। दीपावली को सूर्य ग्रहण और देव दिवाली पर चंद्र ग्रहण हुआ। ऐसे में ये दोनों ग्रहण देश और दुनिया के भविष्य के बारे में भी चेतावनी देते हैं।

कई ज्योतिषियों के अनुसार इन ग्रहणों का असर अगले 45 दिनों में दिखने लगेगा। हालांकि पहले प्रभाव के तौर पर हमने देखा कि पूर्ण चंद्र ग्रहण की रात को दिल्ली और नेपाल समेत देश के कई राज्यों में भूकंप आया। इस भूकंप में जान-माल का ज्यादा नुकसान नहीं हुआ था, लेकिन यह आने वाले खतरे का संकेत मात्र है। विद्वान ज्योतिषियों के अनुसार इन दो ग्रहणों के कारण आने वाले समय में देश और दुनिया को कई संकटों का सामना करना पड़ेगा। जानिए ऐसी ही कुछ बातों के बारे में

मंगल और शुक्र से संबंधित राशियां होंगी प्रभावित (2023 भविष्यवाणियां)

ज्योतिषियों की माने तो इन ग्रहणों का सबसे ज्यादा असर मंगल और शुक्र से जुड़ी राशियों पर होगा। मेष और शुक्र राशि तुला राशि के लोगों को आने वाले समय में भारी उथल-पुथल का सामना करना पड़ेगा। ऐसे में उन्हें सावधान रहना चाहिए और किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए अभी से मानसिक रूप से तैयार रहना चाहिए।

देशों में युद्ध छिड़ सकता है

मंगल को युद्ध का देवता माना जाता है। मंगलवार को ही सूर्य ग्रहण और चंद्र ग्रहण दोनों ही लग चुके हैं, जिससे ज्योतिषियों का मानना ​​है कि यह आने वाले समय में विभिन्न देशों के बीच भूमि विवाद को जन्म दे सकता है। सीमा विवाद को लेकर भारत के अपने पड़ोसी देशों के साथ सशस्त्र संघर्ष भी हो सकते हैं। देश पड़ोसी देशों के साथ कुछ छिटपुट युद्ध में भी शामिल हो सकता है। जमीन विवाद को लेकर हुई हिंसक घटनाओं की खबरें भी अखबारों में पढ़ेंगे। जिनकी कुंडली में मंगल ग्रह प्रबल है, उनके लिए बेहतर होगा कि वे मंगल की शांति के लिए अभी से उपाय करें।

शुक्र से संबंधित क्षेत्रों में रहेगी गति

शुक्र ग्रह के कारण आभूषण, विलासिता, मनोरंजन, जीवन शैली आदि क्षेत्रों में अचानक उछाल और गिरावट आ सकती है, जिससे इन क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों के लिए कई समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। इस क्षेत्र से जुड़े लोगों को धैर्य के साथ आगे बढ़ना होगा ताकि वे किसी भी तरह की परेशानी में न पड़ें।

अस्वीकरण: यहां दी गई जानकारी पौराणिक मान्यताओं पर आधारित है और केवल सूचना के उद्देश्य से दी जा रही है। News24 इसकी पुष्टि नहीं करता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments