Thursday, January 26, 2023
Google search engine
Homeधर्म/ज्योतिषएकादशी के दिन करें ये उपाय, खरीदी जाएगी खुद की संपत्ति

एकादशी के दिन करें ये उपाय, खरीदी जाएगी खुद की संपत्ति


मोक्षदा एकादशी के उपाय: सनातन धर्म में एकादशी की तिथि को अत्यंत पवित्र माना गया है। पंचांग के अनुसार मोक्षदा एकादशी आज शनिवार (3 दिसंबर 2022) को चतुर मत से मनाई जा रही है। वैष्णववाद के अनुसार 4 दिसंबर 2022 दिन रविवार को एकादशी मनाई जाएगी। मोक्षदा एकादशी के दिन ही भगवान कृष्ण ने अर्जुन को श्रीमद्भागवत गीता का उपदेश दिया था। इस कारण इसे गीता जयंती पर्व भी कहा जाता है।

पौराणिक मान्यताओं में कई ऐसे उपायों का जिक्र किया गया है, जिन्हें अगर किसी एकादशी के दिन किया जाए तो व्यक्ति का भाग्य बदलते देर नहीं लगती है। ये सभी उपाय करने में बेहद आसान हैं और इन्हें करते ही असर तुरंत दिखने लगता है। सीखना मोक्षदा एकादशी के कुछ ऐसे टोटके (Ekadashi Ke Upay) के बारे में

मोक्षदा एकादशी और गीता जयंती पर करें ये उपाय

यह भी पढ़ें: मोक्षदा एकादशी: 3 दिसंबर को है मोक्षदा एकादशी और गीता जयंती, इन उपायों से दूर होंगे हर संकट

इस दिन एकादशी का व्रत करें और सुबह जल्दी उठकर श्रीमद्भागवत गीता का पाठ करें। इस उपाय से पितरों को मोक्ष की प्राप्ति होती है और उनके आशीर्वाद से परिवार की उन्नति होती है।

हो सके तो अपने घर में श्रीमद्भागवत गीता का पाठ करवाएं और इसके किसी एक अध्याय का हवन भी कराएं। इससे घर में मौजूद सभी नकारात्मक शक्तियां समाप्त हो जाती हैं। किसी कारणवश घर में घुसी हुई बुरी शक्तियों को भगाने का यह सबसे अच्छा उपाय है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार (ज्योतिष टिप्स) मोक्षदा एकादशी के दिन लक्ष्मी सहित भगवान विष्णु की माता की पूजा करनी चाहिए। उनके माथे पर पीले चंदन का तिलक लगाएं, उन्हें पीले वस्त्र पहनाएं, पीले रंग के फूल, मिठाई, फल आदि अर्पित करें। इस तरह पूजा करने से मां लक्ष्मी अपने भक्तों पर प्रसन्न होती हैं और उनकी हर मनोकामना पूरी करती हैं। यदि कोई व्यक्ति अपनी संपत्ति खरीदना चाहता है तो इसके लिए उसे यह उपाय लगातार 108 एकादशियों तक करना चाहिए।

यह भी पढ़ें: ज्योतिष टिप्स: इस फूल को किसी भी देवी-देवता को चढ़ाएं, हर मनोकामना तुरंत पूरी होगी

मोक्षदा एकादशी के दिन भगवान श्रीकृष्ण के रथ में बैठकर अर्जुन को गीता का उपदेश देते हुए स्वरूप की पूजा करनी चाहिए। उनका यह रूप सभी पापों का नाश करने वाला और व्यक्ति को मोक्ष देने वाला है। इस एक उपाय से मनुष्य को किसी अन्य पूजा-पाठ आदि की आवश्यकता नहीं रहती और उसके पाप नष्ट हो जाते हैं और वह स्वर्ग को प्राप्त होता है।

अस्वीकरण: यहां दी गई जानकारी ज्योतिष पर आधारित है और केवल जानकारी के लिए दी जा रही है। News24 इसकी पुष्टि नहीं करता है. कोई भी उपाय करने से पहले संबंधित विषय के विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments